Parliament Monsoon Session: पीएम मोदी बोले, सदन में हरिवंश की निष्पक्ष भूमिका हमारे लोकतंत्र को करती है मजबूत

154
कोरोना महामारी

राज्यसभा में सदस्यों ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, बेनी प्रसाद वर्मा, अमर सिंह और अन्य दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी है। राज्यसभा की कार्यवाही के दौरान भाजपा अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद जेपी नड्डा ने जेडीयू सांसद हरिवंश नारायण का नाम राज्यसभा के उपसभासपति के लिए प्रस्तावित किया। जिसके बाद राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने घोषणा करते हुए कहा कि मैं हरिवंश नारायण को राज्यसभा के उपाध्यक्ष के रूप में चुना गया है।

हरिवंश नारायण के उपसभापति चुने जाने पर पीएम मोदी ने कहा कि मैं हरिवंशजी जो को दूसरी बार इस सदन का उपसभापति चुने जाने पर बधाई देता हूं। सामाजिक कार्यों और पत्रकारिता के जरिए हरिवंशजी ने एक ईमानदार पहचान बनाई है। इसके लिए मेरे मन में उनक प्रति काफी सम्मान है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि संसद में उनकी निष्पक्ष भूमिका हमारे लोकतंत्र को मजबूत करती है।

कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) के बीच संसद का मानसून सत्र (Parliament’s Monsoon Session) आज से शुरू हो गया है। लगातार 18 दिन चलने वाले इस सत्र के लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। कोरोना से बचाव के लिए इस बार कई तरह के खास इंतजाम किए गए हैं। सांसदों तथा कर्मचारियों समेत 4000 से ज्यादा लोगों की कोरोना जांच की गई है। लोकसभा की कार्यवाही को कल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। वहीं, आज राज्यसभा में उपसभापति का चुनाव भी होना है। विपक्ष ने राजग के उम्मीदवार हरिवंश के मुकाबले मनोज झा को उतारा है। हालांकि, राज्यसभा के गणित के लिहाज से हरिवंश का चुनाव जीतना तय माना जा रहा है।

राज्यसभा में श्रीपद नाइक ने बताया कि इस साल एक जनवरी से सात सितंबर के बीच जम्मू क्षेत्र के नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम उल्लंघन की 3,186 हुई हैं। इसके अलावा इस साल 31 अगस्त तक जम्मू में भारत-पाक सीमा पर सीमापार से गोलीबारी की 242 घटनाएं हुई हैं।

लोकसभा सचिवालय ने बताया कि मानसून सत्र के पहले दिन की कार्यवाही में 359 सांसदों ने हिस्सा लिया।

कोरोना पर स्वास्थ्य मंत्री का बयान

कोरोना वायरस पर लोकसभा में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि अधिकतम मामले और मौतें मुख्य रूप से महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात से हुई हैं। उन्होंने कहा कि हमारे प्रयासों की वजह से देश में कोरोना को सीमित करने में कमयाबी मिली। प्रति 10 लाख जनसंख्या पर भारत में 3,328 मामलें हैं और 55 मौतें हैं, जो दुनिया के अन्य देशों की तुलना में कम है।

संसद में उठा ड्रग्स का मुद्दा

लोकसभा में भाजपा सांसद रवि किशन ने ड्रग्स का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि नशीले पदार्थों की तस्करी की समस्या बढ़ रही है। देश के युवाओं को बर्बाद करने के लिए षड्यंत्र रचा जा रहे हैं, हमारे पड़ोसी देश इसमें योगदान दे रहे हैं। पाकिस्तान और चीन से ड्रग्स की तस्करी हर साल की जाती है। इसे पंजाब और नेपाल के रास्ते लाया जाता है। उन्होंने कहा कि ड्रग की लत फिल्म इंडस्ट्री में भी है। कई लोगों को पकड़ा गया है, NCB बहुत अच्छा काम कर रही है। मैं केंद्र सरकार से सख्त कार्रवाई करने, दोषियों को जल्द पकड़ने और उन्हें सजा देने का आग्रह करता हूं।

सब की सहमति से प्रश्नकाल कहने का फैसला : राजनाथ

प्रश्नकाल के मुद्दे पर कांग्रेस के आरोप का जवाब देते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बहुत से नेताओं से मैंने भी बातचीत की है। असाधारण परिस्थितियों में संसद की कार्यवाही हमको करनी पड़ रही है। 4 घंटे के लिए सदन चलेगा और मैंने अनुरोध किया था कि उसमें प्रश्नकाल न हो। आधे घंटे का एक जीरो आवर हो। राजनाथ सिंह ने कहा कि अधिकांश राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की सहमति के बाद ही यह फैसला किया गया था।

लोकतंत्र का गला घोंटने का प्रयास: अधीर रंजन

लोकसभा में कांग्रेस के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि प्रश्नकाल बेहद महत्वपूर्ण है, लेकिन आप कहते हैं कि परिस्थितियों के कारण इसे आयोजित नहीं किया जा सकता है। आप सदन को चलाते हैं, लेकिन प्रश्नकाल को समाप्त कर देते हैं। आप लोकतंत्र का गला घोंटने का प्रयास कर रहे हैं। विपक्ष के अन्य सदस्यों ने भी कहा कि प्रश्नकाल और प्राइवेट मेंबर बिजनेस होना जरूरी है

ऑनलाइन सवाल के लिए ऐप 

स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि लोकसभा के सांसद राज्यसभा और राज्यसभा के सांसद लोकसभा में बैठेंगे। हम अभूतपूर्व स्थिति में बैठे हैं। हम इस सत्र को कोविड प्रोटोकॉल के तहत चला रहे हैं।ऑनलाइन सवाल के लिए ऐप विकसित किया है। स्पीकर ने कहा कि इस बार हमने सांसदों को सदन में बैठकर बोलने की इजाजत दी है।

लोकसभा में प्रणव मुखर्जी को श्रद्धांजलि

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर लोकसभा में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। स्पीकर ओम बिड़ला ने उनका जिक्र करते हुए कहा कि वह एक सफल वक्ता और प्रशासक थे। उनका ज्ञान और अनुभव अद्वितीय था। इसके बाद सदन की कार्यवाही को एक घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया।

पूरा देश जवानों के साथ खड़ा

पीएम ने कहा, हमारी सेना के वीर जवान हिम्मत, जज्बे और बुलंद हौसलों के साथ सीमा पर डटे हुए हैं। कुछ समय के बाद बर्फबारी भी शुरू होगी। मुझे विश्वास है कि सभी सदस्य मिलकर संदेश देंगे कि पूरा देश जवानों के साथ खड़ा है जो सीमा पर डटकर मातृभूमि की रक्षा कर रहे हैं।

कोरोना भी है और कर्तव्य भी

पीएम मोदी ने कहा कि संसद का सत्र ऐसे कठिन समय में शुरू हो रहा है, जहां एक तरफ कोरोना है और दूसरी तरफ कर्तव्य। सांसदों ने कर्तव्य का पथ चुना है। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। इस बार लोकसभा और राज्यसभा अलग-अलग समय पर चलेगी। इस बार शनिवार और रविवार को भी सदन चलेगा। सभी सांसद इस पर सहमत हैं।

कांग्रेस ने दिया स्थगन प्रस्ताव 

कांग्रेस के सांसद अधीर रंजन चौधरी और के सुरेश ने लोकसभा में पूर्वी लद्दाख में चीनी घुसपैठ को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया है। दूसरी तरफ डीएमके और सीपीआइ (एम) ने नीट परीक्षा की वजह से 12 किशोर छात्रों की आत्महत्या’ को लेकर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

11 विधेयक पेश करने की तैयारी

विपक्ष चीन के साथ एलएसी पर चल रहे विवाद, अर्थव्यवस्था और कोरोना संकट जैसे मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी में है। सरकार ने 11 विधेयक पेश करने की तैयारी की है और विपक्ष ने स्पष्ट कर दिया है कि वह कम-से-कम चार विधेयकों का विरोध करेगा। विपक्ष की सरकार को घेरने की रणनीति के बीच सरकार भी जबाव देने के लिए पूरी तरह तैयार है। खासकर चीन विवाद और कोरोना संकट के मुद्दे पर वह विपक्ष के सवालों का पूरी ताकत से जवाब देगी।

चार विधेयकों पर खुला विरोध

सरकार इस सत्र में 11 विधेयक भी पेश करेगी। कांग्रेस ने इनमें से चार विधेयकों पर खुले विरोध का एलान कर दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा कि जिन चार विधेयकों के विरोध का निर्णय लिया गया है, उनमें तीन कृषि और किसानों से जु़ड़े हैं। एक विधेयक फाइनेंस से जु़ड़ा है, जिसमें बैकिंग रेगुलेशन एक्ट में बदलाव का प्रस्ताव है। वहीं, एग्रो मार्केटिंग से जु़ड़े विधेयक का पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान आदि राज्यों ने विरोध किया है।

बदला दिखेगा संसद का नजारा

– मानसून सत्र के दौरान संसद का नजारा बदला दिखेगा, क्योंकि दोनों सदनों की बैठक एक साथ नहीं होगी।

सोमवार को लोकसभा की बैठक सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक चलेगी। राज्यसभा की बैठक तीन बजे से शाम सात बजे तक चलेगी।

– मंगलवार से पहले राज्यसभा और बाद में लोकसभा की बैठक चार–चार घंटे के लिए होगी।

– सभी सांसदों को कोविड का परीक्षण कराने के लिए कहा गया है। सिर्फ उन्हीं सांसदों को प्रवेश दिया जाएगा, जिनकी रिपोर्ट निगेटिव होगी।

– संसद की बैठक के लिए दोनों सदनों के कक्षों और गैलरियों का इस्तेमाल किया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here