प्रसाद की तरह कोरोना बांट सकता है AC, इसी अंदाज में 3 लोगों को किया संक्रमित

476
Is Lockdown Cure For Corona

कोरोना वायरस संक्रमण कैसे फैलता है?

दुनिया भर में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. वायरस को लेकर लगातर रिसर्च भी किए जा रहे हैं. हाल ही में एक स्टडी में पता चला कि एयर कंडीशनर की वजह से भी कोरोना एक दूसरे में फैल सकता है. अमेरिका के सेंटर फॉर कंट्रोल एंड प्रिवेंशन द्वारा इमरजिंग इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित एक लेख के मुताबिक चीन के एक रेस्टोरेंट में लगे एयर कंडीशनर की वजह से वहां बैठे तीन लोगों को कोरोना इंफ्केक्शन हो गया.

स्टडी के मुताबिक पहला संक्रमित व्यक्ति 24 जनवरी को इसी रेस्टोरेंट में खाना खाने आया था. वहां कोई खिड़की नहीं है जिसकी वजह से यहां 24 घंटे AC चलाया जाता है. संक्रमित व्यक्ति यहां लगभग 1 घंटे बैठा था. दूसरे और तीसरे लोग भी थोड़ी दूर पर बैठे थे. पहले संक्रमित मरीज में रेस्टोरेंट से घर आने के अगले ही दिन लक्षण दिखने लगे थे. वहीं दूसरा व्यक्ति 5 फरवरी को संक्रमित हुआ था. तीसरा व्यक्ति भी 5 से 7 फरवरी को संक्रमित हुआ था.

स्टडी में कहा गया है कि ये संक्रमण ड्रापलेट से नहीं फैला है. इसके फैलने में AC का अहम योगदान है. एयर कंडीशनर की हवा का तेज फ्लो ही ड्रापलेंट्स को हवा में लाया होगा जिसकी वजह से वहां मौजूद लोग कोरोना संक्रमित हुए. बता दें दुनिया भर के डॉक्टरों का भी मानना है कि एसी चलाने पर कोरोना का खतरा तब बढ़ सकता है. उनका कहना है कि जब क्रॉस वेंटिलेशन हो तो कोरोना का खतरा होता है.

एक डॉक्टर ने बताया अगर आपके घर में विंडो एसी लगा है तो आपके कमरे की हवा उस कमरे तक ही रहेगी. इसलिए विंडो एसी या कार में एसी चलाने से कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन अगर आप सेंट्रल एसी यूज करते हैं तो आपको ये बंद कर देना चाहिए.

उन्होंने बताया कि सेंट्रल एसी से हवा सारे कमरों में जाती है. अगर किसी दूसरे कमरे में या ऑफिस के किसी और हिस्से में कोई व्यक्ति खांस रहा है और उसको इंफेक्शन है तो ऑफिस में मौजूद सभी लोगों को कोरोन हो सकता है.